World changes day by day!

Wednesday, March 23, 2011

भगत सिंह को हार्दिक सर्धांजलि

7 comments
आज शहीद दिवस है । आज  ही के दिन सन १९३१ को हमारे देश के एक वीर सपूत ने अपने प्राणों की आहुति दी । आज भगत सिंह का निवारण दिवस है । भगत सिंह ने अपनी धरती माँ का कर क़र्ज़ अपना प्राण दे कर चुकाया । उस वीर योद्धा ने किसी चीज की चाहत नहीं की, बस उन्हें एक ही ख्याल था वो था अपने मात्रभूमि की आज़ादी । केवल २१ बरस के उम्र में उन्होंने अपनी जान देकर दिखला  दिया की वो कितने महान है । मै ने बस उन्हें किताबो और फिल्मो में ही देखा है । पर जभी वो जय हिंद का नारा और वन्दे मातरम का गान सुनता हो तो खून में उबला आता है । उस वीर सपूत ने हमारे लिए जो किया उसका क़र्ज़ हम कभी चूका नहीं पायेंगे । भगत सिंह ने अपने कर्मो से खुद को अमर बना लिया है । वो हमारे लिए प्रेरणा के  श्रोंत है। हमें भी उनकी तरह बने और अपने देश के लिए कुछ करें ।
आज की युवा पीढ़ी बस नाचने गाने में लगी रहती है और कोई देश के बारे में नहीं सोचता है । हम युवा वर्ग को भगत सिंह से प्रेरणा लेनी चहिये और देश के लिए काम करना चहिये । ऐसे कितने लोग है जो आज उन अमर वीर क्रांतिकरियो  को याद करते है ? आज हमारे नेता बस राजनीती में लगे रहते है देश को बेचने पे लगे रहते है। देश के लिए कोई नहीं सोचता ।  क्या यही था उनका सपना ? अमर क्रांतिकारियों की जान को बेअर्थ  में मत जाने दो देश को आगे बढाओ। भगत सिंह  जैसे वीरों का सामान तभी होगा जब हमारा देश एक सम्पुरण राष्ट्र बनेगा ।
भारत किस इस वीर सपूत को हमारा सत सत नमन।
               भगत सिंह सदा हमरे दिल में रहेंगे।
                भगत सिंह अमर रहे ! 
               भगत सिंह अमर रहे !
               भगत सिंह अमर रहे !
               भगत सिंह अमर रहे ! 
              भगत सिंह अमर रहे !  
              भगत सिंह अमर रहे !   
              भगत सिंह अमर रहे ! 
 

7 comments :

  1. we all love this brave man.......

    ReplyDelete
  2. भगत सिंह अमर रहे !
    भगत सिंह अमर रहे !
    भगत सिंह अमर रहे !
    भगत सिंह अमर रहे !
    भगत सिंह अमर रहे !
    भगत सिंह अमर रहे !
    भगत सिंह अमर रहे !
    भगत सिंह अमर रहे !
    भगत सिंह अमर रहे !
    भगत सिंह अमर रहे !

    ReplyDelete
  3. Bhagat singh ki soch wale log hai par sayad who ya to sooye hai ya corpution ko apna kismat man chal rahe hai

    ReplyDelete
  4. शहीदों की चिताओं पर, लगेंगे हर बरस मेले।
    वतन पर मिटने वालों का, बाकी यही निशां होगा॥

    ReplyDelete

Leave Your comments